इरफान खान की जीवनी हिंदी में – Irrfan Khan Biography in Hindi

0

इरफान खान एक ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने अपने दम पर फिल्म इंडस्ट्रीज में अपना नाम कमाया है. यहाँ तक की इन्होने अंग्रेजी भाषा की बहुत सी फिल्मो में काम किया. ऐसा कोई नही है जो इरफान खान को नही जानता है, इनके दुनिया भर में लाखों फेन मौजूद है.

इरफान खान को फिल्म इंडस्ट्री में आने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी है, क्योकि एक तो ये छोटे गावं से थे ओर ये दिखने में भी ज्यादा सुन्दर नही थे. इरफान खान के करियर के शुरुआती दिन काफी संघर्ष भरे थे.

इरफान खान एक ऐसे अभिनेता हे जिसकी जीवनी के बारे में हर कोई जानना चाहता है, तो आज में आप को इनकी जीवनी के बारे में जितना हो सके उतना बताने की कोशिश करूंगा.

Irrfan Khan Biography

इरफान खान का परिचय

नामशाहबजादे इरफान अली खान
उप नामइरफान
पिता का नामयासीन अली खान
माता का नामसईदा बेगम
पत्नी का नामसुतापा सिकदर
जन्म स्थानजयपुर (राजस्थान)
जन्म तारीख7 जनवरी 1967

इनका जन्म राजस्थान राज्य के जयपुर जिले में मुस्लिम परिवार में हुआ, और इरफान खान ने स्कूल की पढाई जयपुर से ही की, और जयपुर से डिग्री हासिल करने के बाद इन्होने अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन एम.ए. की डिग्री नेशनल स्‍कूल ऑफ ड्रामा से ली और पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए इनको स्‍कालरशिप भी मिली.

इरफान खान को एक्टिग करने में बहुत ज्यादा रूचि थी, इसलिए वो बाद में दिल्ली चले गये और वहाँ जाकर उन्होंने दिल्ली में स्थिति एक्टिंग कॉलेज में दाखिला ले लिया था.

इरफान खान का परिवार – Irrfan Khan Family

इरफान खान के परिवार के बारे में जाने तो इनका काफी बड़ा परिवार है, इनके पिता यासीन खान जिनका खुद का टायर का व्यापार है, और इनके परिवार में इनके अलावा 2 भाई और 1 बहन है.

एक्टिंग ड्रामा स्कूल में इरफान की मुलाकात सुतापा सिकदर से हुयी थी और इसके बाद वो दोस्त बन गये थे, बाद में इनकी दोस्ती प्यार में बदल गयी.

इरफान खान का विवाह उनकी प्रेमिका सुतापा सिकदर के साथ 1995 में हुआ, शादी के बाद उनके दो बेटे हुए जिनमे से एक का नाम बाबिल और दूसरे का नाम आयन है.

इरफान खान का करियर – Irrfan Khan Career

अपनी एक्टिंग की पढाई करने के बाद वो दिल्ली से मुंबई आ गये, और यहां आकर इन्होंने फिल्मों में काम करने के लिए काफ़ी दिनों तक भटकते रहे, इनके शुरुआत के दिन काफी संघर्ष भरे थे.

फिर जाकर इनको फिल्मों में तो नही परन्तु इसकी जगह टी.वी सीरियल में छोटे मोटे रोल मिलने लगे और इस तरह से इरफान खान के करियर की शुरुआत हुयी, इनको टी.वी सीरियल में काम करके अच्छा नही लग रहा था, काफी टी.वी सीरियल तो इन्होने बिच में ही छोड़ दिये. और इनकी  कुछ चर्चित धारावाहिकों के नाम इस प्रकार हैं –

संख्याधारावाहिकों के नाम
1चाणक्य
2भरत एक खोज
3साराजहां हमारा
4बनेगी अपनी बात
5चंद्रकांत
6श्रीकांत
7स्टार बेस्टसेलर्स
8जय हनुमान
9मानो या ना मानो

इन सभी टी.वी सीरियल में उन्होंने बहुत अच्छा काम किया, और इसके बाद वो फ़िल्म इंडस्ट्री में ऑडिशन देने लगे, जिससे उनको 1988 में  “सलाम बॉम्बे” फिल्म में एक छोटा सा रोल मिला, इसी फिल्म से इनका फ़िल्मी करियर की शुरुआत हुयी, इसके बाद इनको बहुत सारी फिल्मो में छोटे मोटे रोल मिलने लगे, लेकिन 2001 में आयी  “द वारियर” फिल्म के बाद इनको असली पहचान मिली. और ये लोगो को पसंद आने लगे.

इसके बाद इन्होने 2004 में आई “हासिल” फिल्म में इनको एक नेगेटिव किरदार में देखा गया था जो इनके फेंस को काफ़ी पसंद आया.

2005 में आयी फिल्म “रोग” से बतौर मुख्य अभिनेता के रूप में अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की, इनकी एक्टिंग लोगो को काफ़ी पसंद आयी, फिर भी इस फिल्म को कामयाबी नही मिली.

इसके बाद इनकी फिल्म “स्लमडॉग मिलियनेयर”, “लाइफ ऑफ पाई” को ऑस्कर पुरुस्कार से नवाज़ा गया, और “पान सिंह तोमर” को भी ऑस्कर पुरुस्कार के लिए चयन किया गया था. और इन्होंने बहुत सी फिल्मो में काम किया जिसमे से इनकी  कुछ चर्चित फिल्मे इस प्रकार है –

संख्याफिल्मो के नाम
1न्यूयॉर्क
2लंचबॉक्स
3पान सिंह तोमर
4स्लमडॉग मिलियनेयर
5हैदर
6पीकू
7तलवार
8जज्बा
9हिंदी मीडियम
10अंग्रेजी मीडियम

इरफान खान की फिल्मे Bollywood के अलावा Hollywood में भी इनकी फिल्मों ने काफ़ी नाम कमाया है, इनकी एक्टिंग देख कर Hollywood से भी काफी ऑफर आने लगे. इरफान खान का नाम भी उन भारतीय अभिनेताओँ में गिना जाता है, जिन्होंने भारतीय सिनेमा के साथ-साथ हॉलीवुड में भी कार्य किया. और उनके द्वारा की गई कुछ हॉलीवुड फिल्मों के नाम इस प्रकार हैं –

संख्याफिल्मो के नाम
1सच अ लॉन्ग जर्नी
2ए माइटी हार्ट
3लाइफ ऑफ पाई
4द अमेजिंग स्पाइडर मैन
5जुरासिक वर्ल्ड

इरफान खान के पुरस्कार – Irrfan Khan Award

  1. 2003 – फिल्मफेयर (“हासिल” फिल्म के लिए)
  2. 2007 – फिल्मफेयर (“लाइफ इन मेट्रो” फिल्म के लिए)
  3. 2008 –  IIFA (“लाइफ इन मेट्रो” फिल्म के लिए)
  4. 2011 – पद्म श्री  ( बॉलीवुड में अच्छे अभिनय के लिए)
  5. 2012 –  राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार  (“पान सिंह तोमर” फिल्म के लिए)
  6. 2013 – लंच बॉक्स फिल्म के लिए दुबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह, एशिया प्रशांत फिल्म समारोह और         एशियाई फिल्म समारोह में अवार्ड 
  7. 2017 – फिल्मफेयर (“हिंदी मीडियम” फिल्म के लिए)
  8. इरफान खान भारत के पहले ऐसे अभिनेता हैं जिनकी दो फिल्मो ने ऑस्कर अवार्ड जीता है – “स्लमडॉग मिलियनेयर” और “लाइफ ऑफ पाई”

इरफान खान के बारे में कुछ अन्य जानकारी

  1. इरफान खान को क्रिकेट में बहुत रूचि थी वो एक अच्छे क्रिकेटर बनना चाहते थे, उन्होंने कभी नही सोचा था की वो आगे जाकर एक अच्छे अभिनेता बनेंगे. जब उन्हें लगा की वो क्रिकेटर नही बन सकते तब उनका ध्यान अभिनय की ओर बढ़ने लगा और उन्होंने अपना अभिनय सुधरने के लिए काफी संघर्ष किया तब जाकर उनको अभिनय में सफलता मिली, और आज उनको पूरी दुनिया जानती है.
  2.  इरफान खान को काफ़ी बार अपने Surname में “खान” होने के कारण काफी बार परेशानी का समना करना पड़ा, इनको इसके चलते दो बार अमेरिका के एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था.

नाम में एक ओर R जोड़ने का राज (Irrfan Khan)

इरफान खान अंग्रेजी में अपने नाम को Irfan की जगह Irrfan लिखते थे.

कुछ का कहना है कि उन्हें अपने नाम में एक ओर ‘R’ जोड़ने के बाद Irrfan नाम का साउंड अच्छा लगता था. और इसलिए इन्होंने अपने नाम में एक और ‘R’ जोड़ा दिया था. और कुछ का कहना है कि शुरुआत में जब उनका फिल्म इंडस्ट्री में करियर start हुआ था तब वो कभी अगर Google पर Search करते थे तब उनके अलावा दुसरो का नाम ही आता था, तब जाकर उन्होंने सोचा की क्यों न अपने नाम में एक ओर “R” जोड़ दिया जाये जिससे मेरे बारे में आसानी से search हो सके.

निधन

इरफान खान के निधन की खबर सुनकर पूरी दुनिया सदमे में है, क्योकि वो एक सच्चे ओर अच्छे कलाकार थे. इरफान खान का जाना फिल्म इंडस्ट्रीज के लिए काफ़ी बड़ा झटका था,

उनको लम्बे समय से न्यूरो एंड्रॉन ट्यूमर  (NeuroEndocrine Tumour) नामक बीमारी से ग्रस्त थे. उनका इलाज काफी समय से चल रहा था, बिच में काफ़ी हद तक सुधार हुआ था, फिर जब वह अंग्रेजी मिडियम फिल्म कर रहे थे तब उनकी हालत वापिस से खराब हो गयी फिर भी उन्होंने फिल्म को बिच में नही छोड़ा. 

जब बहुत ज्यादा स्वास्थ्य खराब हुआ तब उनको मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया था, और 29 अप्रैल 2020 को दुनिया को अलविदा कहा.

इरफान खान को ज्ञानी कीड़ा की पूरी टीम की तरफ से भावपूर्ण श्रद्धांजली और भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे”

“इरफान खान के संघर्षपूर्ण करियर को देखकर हमे बहुत कुछ सीखने को मिलता है की जीवन में कितनी भी समस्याए आये परन्तु हमे कभी हर नही माननी चाहिए, उन सारी समस्याओं का डट कर सामना करना चाहिए. हमे भी इरफान खान की तरह एक ना एक दिन सफ़लता जरूर मिलेगी” 

सार

मेने आज आप को इरफान खानके जीवनी के बारे में जितना हो से उतना बताने की कोशिश की है, अगर इस लेख में आप कुछ और भी जानकारी जोड़ना चाहते है तो हमे comment करके जरूर बताये.

Read Also :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here